CURRENT QUIZ: हाल में गृह मंत्रालय ने 'बिजली गिरना' आपदा को अधिसूचित आपदा की सूची में शामिल करने की सिफारिश 14वे वित्त आयोग से की है***बिहार के तेलहड़ा में प्राचीनतम विश्वविद्यालय के प्रमाण प्राप्त हुए ***मराठा मंदिर सिनेमा हॉल मे 'दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे' लगातार १०००० सप्ताह दिखाने का रिकॉर्ड बनाया ***21 जून को 'अंतराष्ट्रीय योग दिवस' मनाया जायेगा ***इबोला से लड़ने वाले डॉक्टर्स एवं नर्सों को टाइम पर्सन ऑफ़ दी ईयर २०१५ घोषित किया गया***भारत ने पहली बार अपना युद्धक पोत किसी देश को निर्यात करने का निर्णय किया. उस युद्धक पोत का क्या नाम है? (सीजीएस बैराकुडा)***भारत ने पहली बार अपना युद्धक पोत (सीजीएस बैराकुडा) किसी देश को निर्यात करने का निर्णय किया. उस देश का क्या नाम है? (मॉरीशस)***भारतीय दंड संहिता की वह धारा जिसके तहत आत्महत्या को गैर आपराधिक बनाया गया है? (धारा ३०९)***विश्व बैंक की एक शाखा "मिगा " का १८१ वां सदस्य कौन सा देश बना है(भूटान)***'उबर' जिस पर केंद्र सरकार ने दिल्ली में ऍप्स टैक्सी सेवा उपलब्ध कराने पर प्रतिबन्ध लगा दिया, किस देश की कंपनी है? (यूएसए)***अंतराष्ट्रीय भ्रस्टाचार निरोधी दिवस किस तिथि को मनाया जाता है? (9 दिसम्बर )***वह तिथि जिस दिन प्रथम विश्व मृदा दिवस मनाया गया:(5 दिसंबर)***हाल में अंतरास्ट्रीय अपराध अदालत ने उहरु केन्याता के खिलाफ युद्ध अपराध से सम्बंधित आरोप वापस ले लिए. उहरु केन्याता किस देश के राष्ट्रपति हैं? (केन्या)***वह देश जिसे दिसम्बर के प्रथम सप्ताह में पेयजल संकट के समाधान हेतु भारत ने बड़ी मात्र में पेयजल के आपूर्ति की?(मालदीव)***न्यू होराइजन्स किस आकाशीय पिंड के अध्ययन हेतु भेजा गया नासा का अभियान है? (प्लूटो )***हाल में कौन खिलाडी एकदिवसीय क्रिकेट में १०००० रन बनाने वाले विश्व के चौथे बल्लेबाज बने: (कुमार संगकारा)***वह केंद्रीय मंत्री और लोकसभा संसद जिनके बयानों के कारण संसद का दोनों सदन कई दिनों तक वाधित रहा: (साध्वी निरंजना ज्योति)*** भारत ने किस देश को पराजित कर दृष्टिहीनों का क्रिकेट विश्व कप २०१४ जीता: (पाकिस्तान )***इसरो ने किस तिथि को जीसैट 16 फ्रेंच गुयाना के कोउरू के अरियन-5 यान से प्रक्षेपित किया (7 दिसंबर )**थर्टी मीटर टेलिस्कोप परियोजना का पूर्ण सदस्य बना भारत***अरुण मजूमदार अमेरिका का विज्ञानं दूत बनें ***

Tuesday, October 30, 2012

BSSC GRADUATE LEVEL COURT DECISION, REVISED RESULT AND MAINS







MAINS EXAMINATION ON 27 JANUARY, 2013
APPLICATION LAST DATE: 17 JANUARY, 2013

CLICK HERE FOR MAINS EXAM SYLLABUS

BSSC SACHIWALAY SAHAYAK ADDITIONAL RESULT DECLARED

CLICK HERE: JSSC VS. BSSC SACHIVALAYA SAHAYAK EXAMINATION

MAINS EXAM NOT POSSIBLE IN DECEMBER: BSSC SECRETARY HAS SAID THAT SECRETARIAT SERVICE MAINS EXAMINATION IS ONLY POSSIBLE IN NEW YEAR. IT IS NOT POSSIBLE ON 16 DECEMBER. EARLIER THE CHAIRMAN HAD ANNOUNCED THAT EXAMINATION WILL BE HELD BETWEEN 16-20 DECEMBER. BUT ACCORDING TO THE SECRETARY, ADDITIONAL PASSED STUDENTS WILL BE GIVEN TIME TO FILL UP THE MAINS FORM AS WELL AS SEAT PREFERENCES. SO MOST PROBABLY FIRST GRADUATE LEVEL MAINS EXAMINATION WILL TAKE PLACE IN JANUARY 2013.

MORE THAN 3000 RESULT! 
BSSC IS PLANNING TO DECLARE MORE RESULT THAN 1415. EARLIER IT WAS ANNOUNCED THAT ONLY 1415 STUDENTS HAVE PASSED. BUT NOW PROBLEM HAS EMERGED IN THE WAY OF SAVING THOSE 935 STUDENTS, WHO WERE FAILING IN RE-EVALUATION, BUT WERE ALLOWED TO APPEAR IN THE MAINS EXAMINATION. HOWEVER SOME STUDENTS HAVE MORE MARKS THATN THOSE 935 STUDENTS. IF THEY ARE NOT DECLARED PASS, THEN THEY CAN MOVE HIGH COURT. THAT IS WHY NEW DELIBERATION IS GOING ON IN BSSC. CHANCES ARE THAT THOSE STUDENTS WHO ARE GETTING EQUAL OR MORE MARKS IN LINE WITH 935 STUDENTS (IN ALL CATEGORIES), WILL BE DECLARED PASSED. SO NOW, PERHAPS NOT 1415, BUT MORE THAN 3000 RESULT WILL BE PUBLISHED.
After a long wait, Honorable Patna High Court finally pronounced the Judgement. Judgement was delivered by Justice Samrendra Pratap Singh on 30 October, 2012. Honorable Judge rejected petitioners plea to cancel the examination and hold fresh examination. However Justice Singh directed BSSC to declare additional 1500 result. Earlier, case was in the bench of Justice Prakash Chandra Verma's court. He had ordered to re-evaluate the answer sheets after deleting controversial 10 questions. After Honourable Verma's elevation to double bench, case was transferred to Honorable Justice Samrendra Pratap Singh's Bench.  After fresh evaluation 935 passed students were failing in new result. 
Case number CWJC 10268/2012 was filed by Subhash Paswan and others against the result of first graduate level examination. Even Bihar Staff Selection Commission accepted its faults in model answer. It corrected itself by changing some answers and deleting some questions. Then it produced revised result to the high court. But Justice Prakash Chandra Verma had ordered to delete 10 controversial questions. 
So those who have already qualified and those who have qualified in new result, should now concentrate on mains examination. One month time will be given to fresh qualified students to fill up the mains application form. Mains examination will be held between December 16-20 in Patna. Mains Result will be published in the second week of January 2013. So without wasting your time, start preparing for mains examination. Books will not be allowed in mains examination. Syllabus of mains examination is given below. This blog will also help you in preparation. In Current Quiz tab of this blog, everyday few objective questions will be framed, which will help you in preparation.
Present Status of case ( CWJC-10268/2012 ):
Case No.:
  CWJC-10268/2012
Bench:

Filed on:

District:
  Patna
  Subhash Paswan & Ors
Vs.
Bihar Staff Selection Commission & Ors
Subject:
  SELECTION , NON GAZETTED SER.
P.S.Case No.:

Lower Court:


  DISMISSED  30 Oct 2012
Petitioner's Advocate:
  Dinu Kumar

Respondent Advocate:

  Disposal ......
DISMISSED  30 Oct 2012
In the Court of:
  Mr. Justice Samarendra Pratap Singh




WHAT YOU SHOULD DO?


     1. First of all go through the syllabus of mains examination, which has been described after the strategies of this post, study it intensively.
      2.  Since the syllabus of GK is similar to the prelims examination, hence you must read prelims questions thoroughly and analyze it through evaluation.
      3. During going through the prelims questions, identify your weak sections and strong sections. Then make a proper strategy to boost your weaker sections.
      4.  Study one guide or standard book for each section of General Study. Don’t read too many books for a single section. Lucent GK is good, but don’t rely wholly only on this book, since GS questions will be asked of the UPSC standard and only this book is not going to help you.
      5.  Give extra focus on Current affairs. Either purchase a current affairs book or go through the last 12 months issues of a competitive magazine.
      6.   Don’t forget Bihar. Questions were asked from this section in prelims, and mains is no exception. So during preparation study Bihar perspective of all the sections.
      7.  For Math and Reasoning, one standard book for each section should be practiced. These two sections demand practice, practice and practice. Only reading theories are not going to help you. So during reading theories, always solve some examples.
      8. Solve objective type questions of different competitive examinations. First of all, collect these papers from different sources, which include magazine and books, and then solve these papers in scheduled time frame.
     9. And last but not the least, don’t forget General Hindi. Although it is not a big hurdle, yet you shouldn’t overlook it. Go through the General Hindi objective questions of a particular examination, if you find some difficulties during solving these questions, then this paper demands some home work for you, otherwise just practice objective sets. After all its marks is not going to decide your final merit.


141 comments:

Anonymous said...

UPPCS LOWER KA RESULT DECLARE HO GAYA.

lalit said...

jai ho patna high court and bssc finally.

Anonymous said...

thanks ratish ji for information

lalit said...

ratishji,when will be main exam,as i have to give ukpcs main also in end of dec.2012.

Anonymous said...

पटना हाईकोर्ट ने सचिवालय सहायक (स्नातक स्तर) के लिए आयोजित पीटी (प्रारंभिक जांच परीक्षा) को रद करानी वाली याचिका मंगलवार को खारिज कर दी। इस परीक्षा में गड़बड़ी को लेकर दो दर्जन से अधिक याचिकाएं दायर की गई थीं।

इसके पूर्व कर्मचारी चयन आयोग की ओर से अदालत को बताया गया था कि परीक्षा की गड़बड़िया दूर कर ली गई हैं। इसके तहत उत्तरपुस्तिका का दोबारा मूल्यांकन कर 1500 नए आवेदकों का नये सिरे से रिजल्ट जारी किया गया है। न्यायाधीश समरेन्द्र प्रताप सिंह की पीठ ने सुनवाई करते हुए मामले को निष्पादित कर दिया।

सुभाष पासवान व अन्य असफल उम्मीदवारों ने प्रारंभिक जांच परीक्षा को रद कराते हुए मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग थी। 1700 सचिवालय सहायक की नियुक्ति के लिए 2010 में विज्ञापन निकाला गया था। इसकी परीक्षा पिछले वर्ष हुई थी। रिजल्ट इस साल 12 अप्रैल को जारी किया गया था। याचिकाकर्ताओं का आरोप था कि 10 माडल उत्तर व 15 प्रश्न गलत थे। इतना ही नहीं, 18 प्रश्न संघ लोक सेवा आयोग से पूछे गये थे। इसके अतिरिक्त अनेक प्रकार की त्रुटियां पाई गई थीं। कर्मचारी चयन आयोग ने कुछ हद तक गलती स्वीकार करते हुए नये सिरे से त्रुटियां दूर कर देने का भरोसा दिया, जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया।

ashish said...

what is new cut off for general candidates?????

Anonymous said...

cut off is not known. But total 1500 result means cut off for general will be any score between 330 to 335. Not less than that. Since deletion of question will not increase score too much. So those whose score is more than 328, can expect positive result. wait till Friday.

Anonymous said...

CUT OFF 83 QUESTIONS (333).

Anonymous said...

gen cut off 336

Anonymous said...

many many thanks for valuable information. Plz also post the high court order regarding sachivalaya sahayak exam 1993 hearing is on 31-10-2012

Anonymous said...

सचिवालय सहायक समेत स्नातक स्तरीय पदों के लिए 18 दिसंबर, 2011 को आयोजित प्रारंभिक परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों को बड़ी राहत मिली है. पटना हाइकोर्ट ने मंगलवार को इस परीक्षा को रद्द करने संबंधी याचिका खारिज कर दी. न्यायाधीश समरेंद्र प्रताप सिंह ने फैसला सुनाते हुए राज्य कर्मचारी चयन आयोग को निर्धारित समय पर मुख्य परीक्षा लेने का निर्देश दिया. इससे पहले कर्मचारी चयन आयोग के वकील ने हाइकोर्ट को बताया कि पुनर्मूल्यांकन के आधार पर प्रारंभिक परीक्षा का 1500 और रिजल्ट जारी किया जायेगा. इस पर हाइकोर्ट ने कहा कि जब प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम में 1500 और नाम जोड़ लिये गये हैं, तब परीक्षा रद्द करने की जरू रत नहीं है. इधर, आयोग के आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि आयोग बुधवार को रिजल्ट और मुख्य परीक्षा के बारे में घोषणा करेगा. सुबोध पासवान और अन्य ने हाइकोर्ट में याचिका दायर कर प्रारंभिक परीक्षा को रद्द करने की गुहार लगायी थी. याचिकाकर्ता के वकील का कहना था कि 150 अंकों के प्रश्नपत्र में 10 मॉडल सवाल गलत थे. तीन सवालों के विकल्प गलत थे और तीन सवाल पूरी तरह गलत थे. इस आधार पर न्यायालय को प्रारभिक परीक्षा का परिणाम रद्द कर नये सिरे से परीक्षा लेने का निर्देश देना चाहिए. इधर उत्पाद अवर निरीक्षक पद के लिए दो सितंबर, 2012 को हुई मुख्य परीक्षा का रिजल्ट एक सप्ताह में जारी कर दिया जायेगा. आयोग के अध्यक्ष जेआरके राव ने कहा कि नवंबर के पहले सप्ताह में रिजल्ट जारी होगा. 73 पदों के लिए हुई इस परीक्षा में करीब 58 हजार अभ्यर्थी शामिल हुए थे. सफल अभ्यर्थियों को साक्षात्कारजांच में 50 फीसदी..

Anonymous said...

koi fida nhi...ye case supreme court mai jane wala hai

Anonymous said...

SUPREME COURT BHI YAHI DECESION DEGA..ISLIYE GALATFAHMI MAIN MAT RAHO.. EXAM CANCIL NAHI HONE WALA HAI.....

Anonymous said...

सचिवालय सहायक मेंस 16 से 20 दिसंबर तक

1415 और अभ्यर्थियों को मिलेगा मौका

पूर्व में सफल घोषित सभी अभ्यर्थी शामिल होंगेपटना▪सचिवालय सहायक समेत विभित्र संवर्ग के 3285 पदों के लिए 18 दिसंबर, 2011 में हुए पीटी का संशोधित रिजल्ट कर्मचारी चयन आयोग ने बुधवार को जारी किया. इसमें 1415 नये अभ्यर्थी सफल घोषित किये गये हैं. मुख्य परीक्षा 16 से 20 दिसंबर तक पटना में आयोजित होगी. मुख्य परीक्षा का रिजल्ट 14 जनवरी, 2013 के पहले जारी कर दिया जायेगा

Anonymous said...

सचिवालय सहायक की मुख्य परीक्षा इस वर्ष दिसंबर के तीसरे हफ्ते में 16 से 22 तारीख के बीच होगी। इसका आयोजन केवल पटना में होगा। फाइनल रिजल्ट अगले वर्ष जनवरी में मकर संक्रांति तक घोषित कर दिया जाएगा। इस आशय की घोषणा बिहार कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष जेआरके राव ने बुधवार को आइएएस भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में की। उन्होंने कहा कि मुख्य परीक्षा में तकरीबन 17 हजार परीक्षार्थी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों द्वारा पुनर्मूल्यांकन के बाद जो 935 परीक्षार्थी अयोग्य घोषित हुए थे उन्हें भी मुख्य परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाएगा। इसके अलावा 1415 नये परीक्षार्थियों को अवसर मिल रहा है। उन्होंने कहा कि जिन 300 छात्रों ने पद का विकल्प नहीं दिया था उन्हें च्वाइस भरने का मौका मिलेगा। मुख्य परीक्षा में दो पेपर होंगे। हिंदी क्वालीफाइंग होगा। इसमें न्यूनतम 30 फीसद अंक लाना जरूरी होगा। छह सौ अंकों का सामान्य अध्ययन का पेपर होगा। मुख्य परीक्षा के दौरान पुस्तकें साथ रखने की इजाजत नहीं होगी। मालूम हो कि पिछले वर्ष 11 दिसंबर को आयोजित प्रारंभिक परीक्षा में पुस्तक साथ रखने की छूट थी। 16

Anonymous said...

10 ques kaun se hain,bhailog kisi ke pas koi jankari hai kya?????????

rajesh said...

प्रारम्भिक परीक्षा में कुल चार प्रश्नों के उत्तर गलत पाये गये थे। जिसका अंक घटाने के बाद 1415 अन्य परीक्षार्थियों को भी पीटी में उत्तीर्ण घोषित किया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि पीटी में उत्तीर्ण करीब तीन सौ परीक्षार्थियों ने अपने आवेदन में उस पद की र्चचा नहीं की है जिस पद के लिए वे स्नातक स्तरीय परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। इसके लिए आयोग बहुत जल्द ही अपनी वेबसाइट पर ऐसे परीक्षार्थियों को सूचना भेज रहा है ताकि वे निर्धारित समयसीमा के अंदर जिस पद के लिए परीक्षा में शामिल हो रहे हैं उसके बारे में आयोग को जानकारी उपलब्ध करा दें। श्री राव ने एक अन्य प्रश्न के जवाब में कहा कि जूनियर इंजीनियर की परीक्षा में हुई गड़बड़ी के सम्बन्ध में आर्थिक अपराध इकाई के अधिकारी जांच कर रहे हैं। बुधवार को इकाई के पुलिस महानिरीक्षक प्रवीण वशिष्ठ ने आयोग के कार्यालय का निरीक्षण किया है।

Anonymous said...

iska matlab 16-20 no. kam hue?
wo 4 kaun se hai

Anonymous said...

kanhi aisa na ho ki bpsc-jpsc ki tarah bssc-jssc
hey!bhagwan.......aisa mat karna

Anonymous said...

AB TO EXAM HO KE REHEGA.... CHINTA KI KOI BAAT NAHI HAI.. BUS PREPAREATION MAI LAG JAO.. ISI MAIN FAYDA HAI....SAMAY KI WASTE MAT KARO.. AB EXAM FAIR HOGA...FINAL RESULT PUBLISH HONE MAI DELAY HOGA...BSSC KE PARAMPARA KE ANUSAR.....CONTROVERSY TO BANA RAHEGA.....ISLIYE DOST APNE THOUGHT AND INFORMATION SAMAY SAMAY PAR POST KARTE RAHNA.... HAPPY DIWALI AND CHAT PUJA

Anonymous said...

ritesh ji link to post kijiye.. result website par abhi tak najar nahi aaya hai

Anonymous said...

Jab Abhi tak revise result bssc ke website pe nahi aaya to ye prabhat khabar wale ne kahan pe result dekh liya hai. ye sab anuman apne man se deta hai jab result aayega to chhupa thodi rahega.

Vijay Kumar, Patna (Rajendra Nagar) said...

BSSC hasn't got order copy of the judgement yet. That is why BSSC hasn't published additional result. Result is totally ready. When it will get the order copy, result will be published. Only 1415 additional result will come and not more than that. Out of 1415 result about 600 is from general category. Cut off hasn't changed much. May be it old cut off, but not sure. Four questions answer have been changed. No question has been deleted.Honorable Judge has supported BSSC stand. Questions which answer has been changed are:
1. India-China border
2. Sea Bridge
3. Cement
4. --------

Anonymous said...

additional result kis base par dega?

PREM BANDHU said...

cut off kuch v kam hoga ya nahi, mera 1 number kam hai i.e. 341. Kya mai mains de paaonga , kaya koi batane ka kast karenge?

Anonymous said...

Prem bandhu ji app ka score gs ke 5 question ko revised aur reasoning ke 4 question delete hone ke baad kitna ho raha hai uske baad hi decide ho payega

Anonymous said...

Prem you might be in. But no question has been deleted. Only answer of 4 questions have been changed. So cut off is not changed. It is 342 for general. Only those candidates (600 of 1415 in general) is passed who has crossed 342 in re-cheking. Questions are: macmohan line, cement and sea bridge. ONe more more question answer is changed. But I don't have knowledge. So let me clear here that not a single of reasoning has been deleted. IT is only rumor.

Anonymous said...

Sun ne me aa raha hai ki result Commission ke board par publish kar diya gaya hai....plz patna ke koi bhai ya anil ji is ko conform karen....

Anonymous said...

BSSC ne revised result apne notice board par daal diya hai. kal site par aa jayega. total 20415 result diya gaya hai. cut of 326 hai

pankaj kumar said...

WHAT IS MEANING OF 16-20 DEC.2012...
KYA MAINS EXAM ROLL.NO. WISE DIFFERENT DATE KO HOGA ....ANYONE CAN CLEAR THIS ...BLOGGERJI IF U HAVE ANY CLEAR INFORMATION ABOUT THIS THEN U MUST CLEAR THIS ....

Anonymous said...

BSSC HAS ANNOUNCED PROBABLE DATE. THIS DATE WAS ANNOUNCED ONE DAY AFTER COURT JUDGMENT, HENCE NO CERTAIN DATE COULD BE ANNOUNCED. BSSC WILL REQUEST SCHOOLS AND COLLEGES TO PROVIDE ONE DATE BETWEEN 16-20 DECEMBER, FOR EXAMINATION. AFTER THAT ONE PARTICULAR DATE WILL BE ANNOUNCED. SO WAIT FOR ANOTHER WEEK YOU WILL COME TO KNOW THE REAL DATE WHICH WILL BE BETWEEN 16 TO 20 DECEMBER.

PREM BANDHU said...

kya sach me notice board par aa gaya hai

PREM BANDHU said...

kya sach me notice board par aa gaya hai

Anonymous said...

Hindi me qualifying kitna hai aur questions kitne honge aur time kitna hoga?

Anonymous said...

Bhai saheb, resultva to aane dijiye...uske baad hindi ka quilifing marks janeyagaa.. hum bihar ka hoon... sab kam thok bajakar karta..hoon....ye sasura bssc bahute intjaar karva raha hai....abhi se practice karva raha hai ki bihar ke office main kese file ko delay karvaya ja sakta hai..selection ke baad to apko bhi yahi karna hai.. isleye bihari karyalaya babu banne se pahle practiceva to kar lijeye.... samjhe ki ..nahi samjhe.....

Pallav jha said...

The pt result of uppcs 2012 shall be declared today. At present, the meeting of the chairman and the members regarding the pt result is in progress. According to my sources, the cutoff is 264.5. So keep your fingers crossed and hope for the best.

Pallav jha said...

Due to some technical reasons, the pt result of uppcs 2012 has been withheld. Now it will be declared on 9th November.

Anonymous said...

BSSC HAS STILL NOT RECEIVED THE ORDER COPY OF JUDGEMENT. THAT IS WHY RESULT IS BEING DELAYED. AS SOON AS BSSC WILL RECEIVE THE ORDER COPY, RESULT WILL BE DECLARED. BUT IT IS SURE IT WILL BE DECLARED BEFORE DIWALI.

Anonymous said...

kal to bssc chairman ..STF wale ke sawalo ka jawab dete phir rahe the.

unki halat dekh ke aisa lag hi nahi raha tha ki o IAS OFFICER hai.

Anonymous said...

It seems that you were heading the stf team which questioned the bssc chairman. That's why you were able to see the facial expression of the chairman. Mr. Stf head, will you please disclose the questions that you asked him.

Anonymous said...

i was sure of such reactions,
that way some people hesitates to post ground realities.

if you sd hv been in the bssc campus yesterday then you might not hv questioned.

lets work hard for the forthcomming exam friends.
sorry bhai~~~ maaphi de de.
aage se nahi kuchh post karenge__ok :)

Anonymous said...

I was just joking dear. Please don't take it otherwise. Dil pe mat le yaar.

Anonymous said...

anonymous bhai, result kab tak dega. phir kuch ho raha hai kya. agar candidate double bench main jayega to pahli nazar main kess kharij ho jayega..isliye chinta ke koi baat nahi hai..exam december mai hi hogi...

Anonymous said...

anonymous bhai, result kab tak dega. phir kuch ho raha hai kya. agar candidate double bench main jayega to pahli nazar main kess kharij ho jayega..isliye chinta ke koi baat nahi hai..exam december mai hi hogi...

Anonymous said...

CUT OFF WAS 342 IN REVISED RESULT. EARLIER PLAN WAS TO DECLARE 1415 RESULT. BUT AFTER DELIBERATION, IT WAS DECIDED THAT LEAST NUMBER OF THOSE 935 STUDENTS (WHO WERE FAILING IN REVISED, BUT DUE TO COURT ORDER THEY WERE ALLOWED TO SIT IN MAINS) IN EACH CATEGORY WILL BE FIXED CUT-OFF. THIS SITUATION IS AFTER CORRECTING 4 QUESTION'S ANSWER. NOW 1500 MORE RESULT WILL BE PUBLISHED. IN GENERAL CATEGORY CUT OFF IS NOW FIXED 332. SO TOTALLY INSTEAD OF 1415, NOW ABOUT 3000 RESULT WILL BE PUBLISHED. OUT OF WHOM 1300 ARE FROM GENERAL CATEGORY. NEW CUT OFF FOR GENERAL IS 332. MAINS WILL BE CONDUCTED IN THE LAST WEEK OF DECEMBER OR IN THE SECOND WEEK OF JANUARY. THANKS

Anonymous said...

सचिवालय सहायक समेत विभित्र संवर्गाें के लिए आयोजित प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा के अतिरिक्त रिजल्ट जारी करने में नया पेच फंस गया है. पटना हाइकोर्ट के रुख के बाद राज्य कर्मचारी चयन आयोग ने अतिरिक्त 15 सौ रिजल्ट जारी करने पर सहमत तो हो गया, लेकिन अब एक नयी समस्या खड़ी हो गयी है. कॉपियों के पुनर्मूल्यांकन में 935 वैसे परीक्षार्थी फेल हो गये हैं, जो पूर्व के परिणाम में उत्तीर्ण थे.

आयोग ने हाइकोर्ट के निर्देश पर इन असफल आवेदकों को भी मुख्य परीक्षा में शामिल करने का निर्णय लिया था. मगर, कुछ ऐसे भी परीक्षार्थी हैं, जिनका प्राप्तांक 935 असफल परीक्षार्थियों से अधिक हैं. आयोग को चिंता इस बात की है कि यदि इन 935 असफल परीक्षार्थियों को मुख्य परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दी गयी, तो इनसे अधिक अंक लानेवाले असफल छात्रों की ओर से भी आवाज उठने लगेगी. अदालत में आयोग की किरकिरी भी हो सकती है. अब उलझन में प.डे आयोग ने इस मामले में अधिवक्ताओं से कानूनी सलाह लेने का फैसला लिया है. कानूनी सलाह के बाद ही अतिरिक्त रिजल्ट जारी करने और मुख्य परीक्षा के आयोजन पर अंतिम निर्णय लिया जायेगा.

गौरतलब है कि हाईकोर्ट के निर्देश पर हुए पुनर्मूल्यांकन के बाद आयोग ने 1415 नये अभ्यर्थी को सफल घोषित करने का निर्णय लिया था. पूर्व में प्रकाशित रिजल्ट में कुल 16497 को सफल घोषित किया गया था. आयोग ने 16 से 20 दिसंबर से मुख्य परीक्षा आरंभ करने की घोषणा कर रखी है.

Anonymous said...

kitne ques ke ans revised hain aur kitne deltd hai,aur we kaun kaun se hai,plz bataye

Anonymous said...

KEWAL 4 QUESTION KE ANSWER KO SAHI KIYA GAYA HAI. QUESTION DELETE NAHI KIYA GAYA HAI. GENERAL KA 1300 RESULT NIKLEGA. CUT OFF 332 AA RAHA HAI. 935 SABHI CATEGORY KO MILAKAR THA. CUT OFF 10 ANK KAM KAR 332 FIX HUA HAI. RESULT KAL-PARSO TAK AA JAYEGA.

Anonymous said...

सचिवालय सहायक के रिजल्ट में फंसा पेच

आयोग को है डर कि असफल परीक्षार्थियों के बैठने की अनुमति देने पर इनसे अधिक नंबर लानेवाले भी कर सकते है दावा

इस पर कानूनी सलाह लेगा आयोग

मामला सचिवालय सहायक समेत विभित्र संवर्गो के लिए आयोजित प्रारंभिक परीक्षा कासंवाददाता▪पटना

सचिवालय सहायक समेत विभित्र संवर्गाें के लिए आयोजित प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा के अतिरिक्त रिजल्ट जारी करने में नया पेच फंस गया है. पटना हाइकोर्ट के रुख के बाद राज्य कर्मचारी चयन आयोग ने अतिरिक्त 15 सौ रिजल्ट जारी करने पर सहमत तो हो गया, लेकिन अब एक नयी समस्या खड़ी हो गयी है. कॉपियों के पुनर्मूल्यांकन में 935 वैसे परीक्षार्थी फेल हो गये हैं, जो पूर्व के परिणाम में उत्तीर्ण थे.

आयोग ने हाइकोर्ट के निर्देश पर इन असफल आवेदकों को भी मुख्य परीक्षा में शामिल करने का निर्णय लिया था. मगर, कुछ ऐसे भी परीक्षार्थी हैं, जिनका प्राप्तांक 935 असफल परीक्षार्थियों से अधिक हैं. आयोग को चिंता इस बात की है कि यदि इन 935 असफल परीक्षार्थियों को मुख्य परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दी गयी, तो इनसे अधिक अंक लानेवाले असफल छात्रों की ओर से भी आवाज उठने लगेगी. अदालत में आयोग की किरकिरी भी हो सकती है. अब उलझन में प.डे आयोग ने इस मामले में अधिवक्ताओं से कानूनी सलाह लेने का फैसला लिया है. कानूनी सलाह के बाद ही अतिरिक्त रिजल्ट जारी करने और मुख्य परीक्षा के आयोजन पर अंतिम निर्णय लिया जायेगा.

गौरतलब है कि हाईकोर्ट के निर्देश पर हुए पुनर्मूल्यांकन के बाद आयोग ने 1415 नये अभ्यर्थी को सफल घोषित करने का निर्णय लिया था. पूर्व में प्रकाशित रिजल्ट में कुल 16497 को सफल घोषित किया गया था. आयोग ने 16 से 20 दिसंबर से मुख्य परीक्षा आरंभ करने की घोषणा कर रखी है

Anonymous said...

ratish ji
kindly revised aur dltd ques ke bare me bhi bataye

SANTOSH KUMAR said...

what is cut off mark of OBC in bihar sachiwalay pt.

Anonymous said...

bssc 10 november ko 3200 extra result published karega. 935 faild candidates ke liye use aisa karna pad raha hai. cut off 327 se 332 ke beech rahne ki ummeed hai

Anonymous said...

more than 3000 additional result is coming soon! ssc has (theoritically) decided to incorporate all those unsuccessful candidates who are falling parallel to those 935 students who were being ousted by the commission in revised result, but allowed by the High court to appear in main. earlier ssc was adament to publish only 1415 extra result along with 935 candidates. but legal experts suggested against it by saying that it will entagled them into another legal battle and put the whole process in jeopardy.

ambuj kumar said...

new cut off is 329 and 3123 extra candidates are being called for mains exam. exam likely to take place in 2nd week of january 2013

Anonymous said...

Bssc will once again drag itself in trouble by declaring more than 3000 additional result. We will definitely move the fresh case in the high court and supreme court against this decision. It was clearly stated in the vigyapti that the result of the pt will be five times of the vacancy. Supreme court , in a recent case pronounced clearly that any recruitment body can't change the rules and regulations once the procedure gets started and is in progress. Therefore we definitely inititiae the suing process as soon as the bssc declares additional result.

ambuj kumar said...

suprem court ne kuch din pehle ye bhi decision diya hai ki ek baar vacancy notify karne ke baad usme jyad change nahi kiya ja sakta. yahan to ssc ne vacancy me 120 percent change kar diya. kya is par court jane ka mamla nahi banta hai?? mujhe ye samajh me nahi aa raha hai ki anonymous bhai case karke kya haasil kar lenge?? aakhir ye bhi to high court ka hi faisla hai. ye kaise possible hai ki 328 par kuch ladke pass ho aur 330 wale fail? ye to constitution ke article-14 me diye gaye RIGHT TO EQUALITY ka violation hi hoga na??

Anonymous said...

are boss supream court me jane ka dam rakhate ho magar lagata hai ki bssc me ek seat nikalane ka dam nahi hai waise supreme court akele hi jana hoga kyoki waha ke liye koi sathi nahi melega

Anonymous said...

koi baat nahi anonymous bhai jaiye aur case kar dejeye. mamla wahan bhi 1 saal fasa rahega aur phi election samne aa jayegi tab main exam apne aap 1-2 saal ruk jayega. itna intezaar karne ka patience kahn se laate ho bhai? kyon apne saath 17000 students ko aur pakana chahte ho?

Anonymous said...

jo anonymous bhaiya ji court jane ki dhamki de rhe hain unki bato ko plz aaplog seriously mat lijiye. wo yha k netao jaise gadkari jairam ramesh etc se influence hain so kuchh bhi bina soche samjhe bol rhe hai taki kuchh log unki bato pe dhyan de!!
kitna bhi result ho kya karna hai ek hi seat to chahiye achhe se study krenge ek seat le lenge ye sochne ka time hai to bas faltu ka bolna hai sabka time n dimag khrab karna hai.
pt qualified to aisi bat nhi hi krenge ho skta hai inka dur dur tk koi naam na ho list me!!
so chill n concentrate on studies!!

Anonymous said...

Ayog ka irada theek nahi hai.. agar theek hota.. to itna mai result published kar sakta tha... koi pench nahi hai.. aalakaman ko apne favourable candidate ko bhi to pass karana hai...Jab tak netaji ke candidate ka naam pass wale list mein nahi aa jayega.. tab tak ayog apni baat badalta rahega...Fifth year plan ..tab tak apke child ka age bssc mai apear hone layak ho jayega...

Anonymous said...

सचिवालय सहायक समेत विभित्र संवगरें के लिए हुई प्रारंभिक परीक्षा में कुछ और अभ्यर्थी सफल किये जा सकेंगे. राज्य कर्मचारी चयन आयोग ने इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग से मार्गदर्शन मांगा है. आयोग के सचिव परशुराम मिश्र ने कहा कि कॉपियों के पुनर्मूल्यांकन के बाद 935 अभ्यर्थियों को असफल घोषित किया गया है. ये सभी पूर्व में जारी रिजल्ट में सफल घोषित हुए थे. कोर्ट के आदेश पर इन 935 अभ्यर्थियों को भी मुख्य परीक्षा में शामिल करने का निर्णय लिया गया है. लेकिन, कुछ ऐसे भी अभ्यर्थी हैं, जिन्होंने इन 935 अभ्यर्थियों से अधिक अंक प्राप्त किये हैं.

Anonymous said...

Bhiya ji gen me phle wale reslt me mera marks 339 aur mere bhai ka 331 tha aur hmdono ka selection nahi hua tha kya koi bhai sahab hame bta sakte hai ki re-result me hmdono ke reslt ke hone ka chance hai ki nahi. Sath hi koi ye bhe bta dijiye ki result kaun se date ko aa raha hai.

Anonymous said...

bssc kya apna main exam samay pe le payega.kup kap bath gaya hai.patna aur bihar ke pass honowale larke bssc pe dharna aur pressure karna chaiye.tabhi exam hoga

Anonymous said...

sab logo ka dimag karab kya hao bssc ne

Anonymous said...

aaj bssc office jakar puchhne per btaya ki result chhat puja k bad aayega n usi samay form fill krne ke date ke sath hi exam ka date bhi announce kiya jayega.
let c unki bato me kitni sachchai hai!!

Anonymous said...

ha bahi itna din bssc ne chutiya banaya chalo kuch aur din sahi

Anonymous said...

I AM GOING TO FILE A PETITION IN THE PATNA HIGH COURT. MY PLEA WOULD BE TO TAKE AWAY THE RESPONSIBILITY OF CONDUCTING SECRETARIAT SERVICE EXAMINATION FROM BSSC AND HANDOVER IT SOME OTHER CAPABLE ORGANISATION, SINCE IT IS NOT FUNCTIONAL. IT HAS ADVERTISED IN 2010, BUT SO FAR NOBODY KNOWS WHEN MAINS EXAMINATION WILL TAKE PLACE. 12 DAYS HAVE PASSED SINCE ORDER OF HIGH COURT. YET IT HASN'T PUBLISHED RESULT. BILKUL NIKKAMMA-----ORGANISATION.

vikash said...

sir ek bahot badi problem ho gayi hai, maine apna sachiwalaya sahayak ka roll no kho diya hai, mujhe nahi maloom tha ki BSSC dobara result de sakta hai.
kya koi option bacha hai mere pass.

Anonymous said...

Acha kiy aur iski tention mat lo kyonki mains nahi hoga in bssc walo ki gand me itna basood nahi hai ki mains karwa sake. Sab officer, politician madhar chod hai.

Anonymous said...

Dost accha hua ki aap ka admit card kho gaya, ab aap tension se bachenge...na rahega baans na bajige baasori..

Kamal said...

Dont worry vikas..jab result niklega to apke district code se jo v larke paas huee honge unke roll number par bari bari upna date of birth daal kar dekh lenge..isse aap ka roll no pata chal jayega...mujhe nahi lagta iske siwa ab koi dusra upai hai...

Anonymous said...

रौल नं0 खो जाने पर आप आसान तरीका से अपना रौल नं0 जान सकते है, सूचना के अधिकार 2005. . . . . . . . अपने नाम पर या किसी और के नाम पर यह जानकारी प्राप्‍त कर सकते है।

Anonymous said...

New result kab out hoga aur mains kab tak hoga?

bssc ka mara ek bechara said...

bhai ye to bssc ko hi pata nahi hai to aap ko koi kya btayega ki kab result out hoga aur kab mens hoga waise lage raho munna bhai ki tarj per lage rahiye....kyunki even dog has its day

Anonymous said...

I request all students living in Patna to go and protest against the bssc for not declaring extra result and announcing the date of mains examination. It is clear case of violation of court judgment. 15 days have passed since court judgment, yet bssc has not taken any step in the direction of mains examination. Students should also submit memorandum to deputy chief minister take action against officials. I don't understand why bssc is not taking any step. Are they incapable? If so, then why they don't declare that they can not conduct mains examination? I live in kalka, that is why I can not go bssc office.

बुरे फंसे छात्र said...

निक्कम्मा-नकारा -निरीह -निर्लज -निंदनीय -निर्जीव है बिहार कर्मचारी चयन आयोग। यह मुख्य परीक्षा लेने में अक्षम है। इसे सचिवालय सहयक की परीक्षा बीपीएससी को सौप देना चाहिए।

Anonymous said...

Friends 16 dec ko exam possible lagta hai ! Muje to nahi lgta

Anonymous said...

Mains exam date is 32/15/20001

Anonymous said...

Jharkhand Sachiwalay ka result nikal gaya. Uska mains 16 December ko hai. Sharm karna chahiye Bihar SSC ko, BSSC ke chairman ko dub marna chahiye.

SANTOSH KUMAR said...

what is happening in bssc, I m unable to understand. I think bssc has no legal expert. Therefore, bssc must take coopration to legal erxpert. Bssc says if 935 student(failed) are passed, other student will move court. It will happen. but who is responsible for this problem. bssc is playing dangerous game. it is not right.

SANTOSH KUMAR said...

Bssc has destroyed the glorious history of bihar. Every scam happens in bssc. Nothing is fair. In spite of this, bssc always says, it is human mistake. This is only to ignore the fact. No exam happens without the interfare of High court. This is reason, alot of students have knowledge, but useless. Therefore, bssc must have ben closed. So that, lot of money will save, whic is given the bssc staff for salary.

Anonymous said...

ALL BSSC STAFFS INCLUDING THAT IAS OFFICER AS CHAIRMAN BE GIVEN TIGHT KICK ON ASS,THEN THEY WILL HAVE MOTIVATION TO CONDUCT EXAM ON TIME.BIHAR STUDENTS ARE ALSO RESPOSIBLE FOR THIS FAITH DIRECTLY OR INDIRECTY.WHERE THEY ARE NOW TO SHOUT FOR CONDUCTING MAIN EXAM.
NTISH BABU IS ENJOYING PAKISTAN FOODS ,NOTHING CONCERNT OF US.AFTER CHAUTH PUJA,MEET HIM ON THIS MATTER.

Anonymous said...

READ NITISH,CHAATH

vikash said...

Thanks kamal sir and Anonymous friends.

Anonymous said...

ACCORDING TO THE SECRETARY OF BIHAR STAFF SELECTION COMMISSION, PARSHURAM MISHRA, SECRETARIAT EXAMINATION WILL NOT BE TAKEN PLACE BEFORE JANUARY. HE SAID THAT EXAMINATION IS POSSIBLE ONLY IN NEW YEAR. HE SAID THAT ADDITIONAL RESULT IS YET TO BE FINALISED, THEN PASSED CANDIDATES WILL BE GIVEN EXTRA TIME TO FILL UP THE FORM. READ TODAY'S HINDUSTAN E PAPER PATNA EDITION PAGE NUMBER-7.
http://paper.hindustantimes.com/epaper/viewer.aspx

Anonymous said...

Today I talked to BSSC on 06122220498. They said that file has been sent to advocate general of bihar for legal suggestions. File will return in two to four days, then result will be published. I said that jssc has declared the result within two months. He said that due to legal process mains has been delayed.

Anonymous said...

Jharkhand ssc result me pass kaun hua hai mujhe pata nhi lag raha...

ambuj kumar said...

ratish sir bihar ke news paper hindustan me aya hai ki is year bssc ka exam nahi hoga .baki information pata karke post kijiye .

SANTOSH KUMAR said...

Bssc has intention to delay the exam.Get more time, get more money for dealing. Even jssc has declared the result under two month. Bssc has also capacity, but not for using. It is only destroying the carrier of students.

Ek PATRA CHAT MAIYA KE NAM said...

jai ho chatt maiya bssc mains ka exam jaldi se conduct safal karawe chahe pass ho ya fail kyonki pass ho gaye to saciyalay me noukari karenge aur if fail dusre exam ki tyari karenge .abhi to na marte ban raha hai na jite hey chatt maiya jaldi se hum sabhi abhago ki manokamna puri kare is bssc ke chairman aur nitish kr ko sadbudhi de aapka abhari rahunga

Anonymous said...

The tragic incident at adalatganj ghat of Patna during chhat puja will prove as a final nail in the coffin of nitish government.

SANTOSH KUMAR said...

लगता हैकि छठीमैया भी सुसासनबाबू से रूठ गया है। हमें तो काफी संवेदना है उनपरिवारों केप्रति जिन्‍होंने अपना निकट संबंधी खो दिया है । मैं टीवी पर देख रहा हूं कि किस तरह जिन्‍दा बच्‍चा को मरा हुआ धोषित किया पीएमसीएच के तथाकथित डाक्‍टरों ने । सुशासन बाबू अधिकारी के पक्ष में रात में 11 बजे का्ंफ्रेंस करके बता रहे हैं कि कोई पूल टुटा हीनहीं । यह राजनीतिक साजिश हो सकती है। अब तो भगवान ही मालिक है बिहार के जनता का । हम विघार्थी का तो कहना ही क्‍या बीएसएससी और सरकार ने पहले ही बेरा गर्क कर दिया है । रोज व रोंज घोटाले का पर्दाफास हो रहा है बीएसएससी के द्वारा लिये गये परीक्षा में । इसीलिए एसएससी ग्रेजुएट वाला परीक्षा अप्रैल 2013 में होनेवाला है उस में लग जाएं । उर्जा का क्षय न करें बीएसएससी के बारे में सोच कर 1 धन्‍यवाद ।

Anonymous said...

Setting jabardast ho gaya hai is baar, ye log khud fas gaye hai. Na paisa lete ban rha hai aur na chhorte. Anyways 50000 candidate alag se case karenge, high level ka exam tha. 10 ques akhir galat huwe kyu, aur 1 wrong ques se disturb hokar kisi ka 4 ques chhut bi gaya hoga. Who wil b responsible for that? Pre exam hi dubara ho jaye to sab ke liye achha hai, jisme talent hoga wo fir paas ho jayega. But bssc aisa kar hi nhi sakti, kyuki PAISE KAUN LAUTAYEGA BHAI. Stop bribery

bssc ka sufferer said...

bribery ko maro goli.bssc kab mains exam kega?daily mood karab ho jata bssc ke exam ke chakar me.dose exam ka bhi tayere nahi karene deta hai chain se.ab exam kab hoga- jan or feb or -------------------------.jaisa cm uosha bssc ke staffs.
court ka judement ka kya bssc nahi palan karege.1415 candidates ka hi result dena hai .

Anonymous said...

bssc form in 2010.
bssc pt exam in dec. 2011.
bssc ka main exam in 2013.
bssc result ka main result in.............
jai ho bssc.
ja ho cm of bihar.

Anonymous said...

बिहार कर्मचारी चयन आयोग से निक्कम्मा आयोग आज तक नहीं देखा। एक ऑब्जेक्टिव एक्साम को पूरा करने में इसे तीन साल बीत गए। अभी भी प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है। पता नहीं सरकार इस ओर ध्यान क्यों नहीं दे रही। अगर आयोग परीक्षा लेने में सक्षम नहीं है तो इसे बिहार लोक सेवा आयोग को क्यों नहीं सौप दिया जाता। या सरकार की मंशा कुछ और है। यदि आयोग का अध्यक्ष परीक्षा लेने में नाकाम रहा है तो उसे ट्रान्सफर क्यों नहीं कर दिया जाता।

SANTOSH KUMAR said...

अरविंद केजरीवाल सही कह रहे हैं कि पूरा सिस्‍टम को बदलने की जरूरत है । किस का दोष दें अगर बीएसएससी को दोष देते हैं तो फिर सरकार क्‍या कर रही है । सबका मिलीभगत है , सबका सबके यहां आना जाना होता है । सब एक दूसरे का सहयोग करते हैं। इस परिस्थिति में किस का कंप्‍लेन किया जाए । रामभरोसे पूरा बिहार चल रहा है तो एक बीएसएससी क्‍यों नहीं चलेगा । अरविंद केजरीवाल जी को इस विषय पर टवीट करना चाहिए । उनकी बात को सभी गंभीरता से लेते हैं। चूकि वो खुद एक आदर्श विघार्थी रहें हैं । इसलिए इस विषय पर अवश्‍य बोलना चाहिए ।

Anonymous said...

aaj maine bssc office me phon kiya pta nhi kisse bat hui. secretariate asst result n exam k bare me puchhne per kha ki opinion k liye bheja gya hai. opinion ek week me aa jayega to ek week me aut ek sal me aayega to ek sal me exam oga abhi koi bhi date fix nhi hai.
maine kha apne padosi jharkhand se kuchh sikhiye aaplog to bhadak gye n phon rakh diye.
jan- feb me exam hone ki sambhavana hai ye bhi kha!!

Anonymous said...

छात्रों से अपील
भाई, बिहार कर्मचारी चयन आयोग अपने से कुछ करने से रही। या तो उसे सरकार से आदेश है धीरे चलने की या फिर वो सक्षम नहीं है। ऐसे में हम सभी छात्रो का यह हक़ बनता है की अपना असंतोष तथा गुस्सा मन में न दबाकर उसे बाहर निकाले। इसके लिए पटना में रहने वाले सभी छात्रों से अपील है की वो कल्ह 12 बजे दिने में वेटेनरी कॉलेज के पास जमा हो तथा प्रदर्शन करें और आयोग को नींद से जगाये। साथ ही कुछ छात्र मुख्यमंत्री से भी मिले। तभी जाकर जल्दी से रिजल्ट निकल सकता है और शीघ्र मुख्य परीक्षा हो सकती है। अन्यथा आयोग सोयी रहेगी। क्योकि वह सारे कामचोर तथा निक्काम्मे बैठे हुए है।

Anonymous said...

बिहार में 91 हजार उच्च माध्यमिक शिक्षकों की भर्ती
पटना : बिहार सरकार ने राज्य के सभी सरकारी, अल्पसंख्यक और प्रोजेक्ट माध्यमिक स्कूलों में आगामी पांच वर्ष की अवधि में 91239 उच्च माध्यमिक (प्लस टू) शिक्षकों की भर्ती को आज मंजूरी दे दी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में 2012-17 की अवधि में 91239 उच्च माध्यमिक (प्लस टू) शिक्षकों की भर्ती की मंजूरी दे दी गयी.
मंत्रिमंडल सचिवालय के प्रधान सचिव रविकांत ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘91239 में से शैक्षिक सत्र 2012-13 के दौरान 52345 उच्च माध्यमिक शिक्षकों की नियुक्ति होगी. 2012-13 की अवधि में होने वाली नियुक्तियों और वेतन आदि पर 5.65 अरब रुपये का व्यय आयेगा.’’
उन्होंने कहा कि शैक्षिक सत्र 2013-14 में 8646, 2014-15 में 9943, 2015-16 में 10138 और 2016-17 में 10167 उच्च माध्यमिक शिक्षकों की नियुक्तियां होंगी. इन शिक्षकों को प्रतिमाह 9000 रुपये का नियत वेतन मिलेगा और बिहार जिला परिषद और नगर निगम माध्यमिक उच्चतर माध्यमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली के तहत शिक्षकों की भर्तियां होगी.

Anonymous said...

ढाई लाख से अधिक पदों पर होगी नियुक्तिः नीतीश

पटनाः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कहा कि दो दर्जन विभागों में ढाई लाख से अधिक पदों पर नियुक्ति की कार्रवाई चल रही है. ये नियुक्तियां स्थायी व संविदा दोनों के आधार पर की जा रही हैं.

इनमें सबसे अधिक 1.86 लाख पदों पर शिक्षकों की नियुक्ति नियत वेतन पर हो रही है. पंचायती राज विभाग में पंचायत सचिव के 3004 पदों, प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी के 142 पदों पर नियुक्ति प्रक्रियाधीन है. इसी प्रकार गृह विभाग के 7606 सिपाही, 121 गृह रक्षक के कंपनी कमांडर, 5370 कक्षपाल, जेल में 109 नाई व 525 सफाई मजदूरों की नियुक्ति की जा रही है. आपदा प्रबंधन विभाग में चतुर्थवर्गीय 412 पदों के अलावा विभिन्न पदों पर 45, योजना व विकास विभाग में विभिन्न पदों पर 502, वाणिज्य कर विभाग में वाणिज्य कर पदाधिकारी के 78 पद, निबंधन, उत्पाद एवं मद्य निषेध विभाग में आठ उत्पाद निरीक्षक, 114 अवर निरीक्षक, 104 सहायक अवर निरीक्षक, 44 उत्पाद लिपिक, 806 उत्पाद सिपाही, नौ उत्पादन दफ्तरी, 56 अवर निबंधक व 134 निम्नवर्गीय लिपिकों के चयन के लिए राज्य कर्मचारी चयन आयोग को प्रस्ताव भेजा गया है.

कृषि विभाग में 5300 पदों पर नियुक्ति
कृषि विभाग में बामेती में उप निदेशक के दस, विषय वस्तु विशेषज्ञ के 4062 , वित्तीय सलाहकार के 15, बिहार कृषि विश्वविद्यालय में अधिष्ठाता व प्रशासनिक स्तर के 449 व तृतीय व चतुर्थ वर्ग के 630, समेकित जलछाजन विकास योजना के तहत 83 विशेषज्ञों सहित 89 पदों पर नियुक्ति प्रक्रियाधीन है. स्वास्थ्य विभाग में बिहार स्वास्थ्य सेवा अंतर्गत बेसिक ग्रेड के लगभग 1800 सामान्य चिकित्सकों व 643 विशेष चिकित्सकों, संविदा पर 67 फिजियोथेरापिस्ट, 65 ऑकुपेशनल थेरापिस्ट, 76 लैब टेक्नेशियन व 17 शल्य कक्ष सहायक की नियुक्ति चल रही है. विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग में इंजीनियरिंग व पॉलिटेक्निक कॉलेजों में शिक्षकों के 350 पद, ग्रामीण विभाग में 250 ग्रामीण विकास पदाधिकारी व 4471 कर्मियों की जीविका में नियुक्ति प्रक्रियाधीन है. अनुसूचित व अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग में महादलित विकास मिशन अंतर्गत 38 जिला परियोजना पदाधिकारी, 38 लोखापाल, 38 भंडारपाल, 76 सहायक सह डाटा इंट्री ऑपरेटर, 533 प्रखंड परियोजना पदाधिकारी व 533 लिपिक सह लोखापालों की नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है.

Anonymous said...

एसएससी कार्यालय पर छात्रों का प्रदर्शन

पटना (एसएनबी)। सचिवालय सहायक परीक्षा समेत विगत दो वर्षो की सभी परीक्षाओं को रद्द करने, परीक्षा की निष्पक्ष जांच करा दोषियों को सजा देने की मांग को लेकर ऑल इंडिया स्टूडेन्ट्स फेडरेशन से जुड़े सैकड़ों छात्रों ने बिहार कर्मचारी चयन आयोग कार्यालय पर रोषपूर्ण प्रदर्शन किया। छात्रों ने चेतावनी दी कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गई तो आंदोलन को तेज करेंगे। प्रदर्शन के दौरान छात्रों और पुलिस में तीखी झड़प हो गई। प्रदर्शन में संगठन के राज्य सचिव विश्वजीत कुमार, राकेश कुमार, राजेश कुमार, सुभाष पासवान, भीष्म नारायण, शंकर पंडित, उपेंद्र, अजीत, जयशंकर, प्रेम, मनोज, रंजीत, राजेश, संजय समेत कई लोग मौजूद थे।

Anonymous said...

सचिवालय सहायक समेत विभित्र संवगरें के लिए होनेवाली मुख्य परीक्षा पर विधि विभाग से मागदर्शन मिलने के बाद अंतिम निर्णय लिया जायेगा. सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव दीपक कुमार ने कहा कि विधि विभाग से अभी मागदर्शन नहीं आया है. मार्गदर्शन आते ही इस पर अंतिम निर्णय लेकर इसकी सूचना राज्य कर्मचारी चयन आयोग को दी जायेगी. विदित हो कि प्रारंभिक परीक्षा की कॉपियों के पुनर्मूल्यांकन के बाद 935 अभ्यर्थियों को असफल घोषित करने व कोर्ट के आदेश पर इन्हें मुख्य परीक्षा में शामिल करने का निर्णय लिया गया है. ये 935 अभ्यर्थी पूर्व में हुए मूल्यांकन में सफल थे. लेकिन, कुछ ऐसे भी अभ्यर्थी हैं, जो पुनर्मूल्यांकन में इन 935 अभ्यर्थियों से अधिक अंक प्राप्त किये हैं, पर असफल घोषित हैं. इन्हीं मामलों पर आयोग ने सामान्य प्रशासन विभाग से मागदर्शन मांगा है.

Anonymous said...

bhai logo, bssc ka posts bohool jao ab.ab asani se selection nahi hoga,daku log strong room jo full proof nahi hai me apna answer sheet ko setting se ragwalete hai.
bssc ke staffs crorepati ho jayenge ab.police bhi unke uper case darj nahi karte hai,ya sab aap logo ko akbssc k exam me pata chal hi gaya hoga.bssc ka ak bhi staff nahi pakra gaya, akhr kayo?
ap sab ne dekaha hai ki bssc ke excise sub inspecter aur enforcement sb ofcer ke post me cut of baht upar gaya hai,koye bhi janane me pass nahi hoya hai.
agar hu sab cm tsh babu aur ssc se full proof strong room nah karenge ,jaise cctv cameras,key sirf ak hi senior officer ke pass,lock kaphi strong hona caheye,jayada security man,jo apna answer sheet nahi barte hai unke lye ayog se taraf se exam centre me h ak paper me mark ya kuch aur tarka se mark kar dena hoga.agar ye sab baad me pass hote hai,unke upar kanooni karwaye karne caheye aur unko dsqualfied kar dene ke sah future exm me banned kar dene caheeye.
wake up bssc aspirants,nahi to thand me aese hai mar jaoge.is bihar ka sateya naas ho jaye ga.


Anonymous said...

DEAR FRIEND, I REQUEST U TO ALL ASPIRANT OF BSSC SACHIWALYA SAHAYAK MAINS EXAM CANDIDATE ....U MUST GO ON THE WEBSITE OF BIHAR GOVERMENT ..IN TOP OF THAT HOMEPAGE A OPTION COME...WRITE TO CM....IF U ALL CANDIDATE WRITE ABOUT DELAY OF MAINS EXAM WITHOUT ANY GENUINE REASON TO CM NITISH KUMAR THEN I THINK SOME THING CAN HAPPEN...


BIHAR GOVERMENT WEB ADDRESS----gov.bih.nic.in/

shashank said...

dear after seeing the efforts of shri Ratish in providing us-the aspirants- most updated news regarding the sachivalaya sahayak exam i myself was feeling like doing my bit. although the idea of writing to the CM of Bihar was there in my mind i must acknowledge the comment of a brother who has urged everybody to write a letter to CM through bihar govt.'s official website acted as a fuel so i wrote a letter to Nitishji and i'm reproducing the same for others to see and if they like the idea..follow it.
Dear Nitishji,
It is a strongest worded complaint against the whole BSSC staff responsible for preparing the faulty question paper of combined graduate level (advertisement no. 110/2010 exam) which has directly put the fate of so many aspirants hanging in balance especially when the process has already been taken more than 3 years to be complete starting from the date of notification of exam. This commission has been totally opaque in its operation keeping all the aspirants guessing as to how and when the process of this exam is going to be completed if at all. The chairman had come out with an announcement just a day after the honorable court verdict that exam would be conducted between 16th to 20th of December this year only to be corrected by the secretary a few days later saying the exam is not possible this year...no word about a fixed date or even month had been indicated in the statement.
I think responsibility should be fixed and an exemplary punishment should be given to the Chairman of the commission so that blunder of this magnitude is not committed in the future again otherwise i think the feeling among us- the aspirants- that this examination has been fixed will only get emboldened. This delay has hit candidates like me very hardly who are working in a state where general population has a feeling of hatred for people like me who have come from Bihar to earn their bread and butter. I also think if no action is taken against the culprits in the commission (that is what I consider them) it will cast a bad reflection on the coveted SUSASHAN and transparent governance you have proclaimed to be administering in Bihar.
Lastly I would just like to quote the example of Jharkhand Staff Selection Commission which announced a similar exam this year. It has already published the result of preliminary exam and declared the date for mains exam alongside.

hoping for necessary and urgent action from your side,

An Aspirant.

a k said...

shashank, u write it in a good way i also lodge my complaint on that official website of state govnt

Anonymous said...

ACCORDING TO THE INFORMATION, SOME CONTRACT STAFFS AND GOVERNMENT DON'T WANT TO COMPLETE THE WHOLE BSSC GRADUATE LEVEL EXAM PROCESS IN TIME. CURRENTLY GOVERNMENT IS TAKING THE HELP OF CONTRACT STAFFS ON MERELY 10000 RUPEES FOR DIFFERENT WORKS. SO GOVERNMENT IS NOT IN HURRY TO APPOINT PERMANENT STAFFS SOON. SECOND, STAFFS WHO ARE APPOINTED ON CONTRACT BASIS ARE CREATING HURDLES. SOME CONTRACT STAFFS ARE IN BSSC OFFICE TOO. THEY ARE CREATING HURDLES TO CLEAR EVERYTHING. SO BSSC GRADUATE LEVEL EXAM HAS BEEN DELAYED INTENTIONAL.
ARTHAT JANBUJHKAR DERI KI JARI RAHI HAI JISME SARKAR KE SATH-SATH CONTRAT WALE KARMCHARI BHI SHAMIL HAI. ISLIYE KUCHH BHI ABHI NAHI KAHA JA SAKTA.

Anonymous said...

बिहार सरकार और कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी जानबूझकर सचिवालय सहायक परीक्षा को विलम्ब कर रहे हैं। ऐसी खबर है की फिलहाल सरकार कॉन्ट्रैक्ट वाले स्टाफ से महज 10000 रूपये में सारा काम करवा रही है। ऐसे में वो नहीं चाहती की स्थायी कर्मचारी की नियुक्ति जल्दी हो। वो और देरी करवाने के चक्कर में है। दूसरी ओर कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी जो की कर्मचारी चयन आयोग में भी है सरकार पर दवाब बनाये हुए है की वो जल्दी करेंगे तो उनकी नौकरी ख़त्म हो जाएगी। इसलिए वो देर करवा रहे है। सरकार भी इसे साल भर तक घिचना चाहती है। इसलिए सामान्य प्रशासन विभाग और विधि विभाग को कहा गया है की वो जल्दीबाजी नहीं करे। इसलिए सचिवालय सहायक की मुख्य परीक्षा को जानबूझकर देरी करवाई जा रही है। इसलिए जल्दी परीक्षा की उम्मीद नहीं करे। विरोध प्रदर्शन के बाद ही कोई सीन बन सकता है अन्यथा छह महीने कम से कम लगेंगे। ये खबर सचिवालय से निकली है।

Anonymous said...

नियुक्ति प्रक्रिया शुरू हो तो नहीं बदलेगी आरक्षण कोटि

पटना (एसएनबी)। राज्य सरकार के अधीन किसी भी तरह की नियुक्ति, प्रोन्नति और नामांकन की जारी प्रक्रिया के बीच आरक्षण कोटि में सुधार नहीं किया जायेगा। इस सम्बन्ध में सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि विभिन्न नियुक्तियों हेतु आयोग द्वारा विज्ञापन के प्रकाशन एवं आवेदन प्राप्ति के बाद राज्य सरकार द्वारा कतिपय जातियों की आरक्षण कोटि में परिवर्तन किये जाने की स्थिति में आवेदक की आरक्षण कोटि में तदनुसार सुधार करने के बिंदु पर बिहार कर्मचारी चयन आयोग द्वारा इस विभाग से याचित मन्तव्य के प्रसंग में विधि विभाग का भी परामर्श प्राप्त कर लिया गया है। राज्य सरकार ने विधि विभाग से प्राप्त विधिक परामर्श के आलोक में संसूचित किया है कि किसी भी नियुक्ति, प्रोन्नति और नामांकन की निर्धारित प्रक्रिया को शुरू करने के बाद पूर्व में लागू किसी नियम अथवा नियमावली में जब तक कोई संशोधन किसी भूतापेक्षी तिथि से लागू नहीं हो, तब तक जारी नियुक्ति, प्रोन्नति व नामांकन की प्रक्रिया के बीच किसी प्रकार का संशोधन नहीं किया जा सकता है। आदेश में कहा गया है कि इस सम्बन्ध में पूर्व में निर्गत आदेश (यदि कोई है) के असंगत अंश इस हद तक संशोधित समझे जायेंगे। सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया आदेश, प्रोन्नति और नामांकन के मामले में भी लागू होगा यह नियम

lalit said...

@shashank ,bssc.u have done a good work by sendig an email to cm of bihar.but,he is very clever man,as he is a politician and he know what is going in the state.i had sent him a letter regarding that bpsc should not come out with its main exam date sheet in month of may ,inwake of jpsc main exam starting in may.
but, he done nothing and bpsc cnducted its main exam may month.had he talked to bpsc charman ,then the exam could had been in june or july month and aspirants from bihar had given both the exam,whch we all know that it comes not year basis like
upsc or uppcs.
hope that mr cm look into gravity of this matter and instruct bssc to expediate the ma exam process at earliest,as being a cm and also holding charge of department of personnel,nobody can deny his order.
this exam in order to be conducted in transparent manner ,without any favour or scandal need to reformed as:
1.what the bssc had done after strong room case?
2.the srong room shoud be protected through cctv cameras round the clock and only chairma or secretary presence it need to be opened.the lock should be heavy and it shoud ot be opened through any other key.
3.cheatng through hgh tech munna bhais of bihar need to be stopped at any cost.
4.no electronc devices be alowe exam hall ,for that checking at gate of exam centre need to be doe by police teams with elctronic devices and manually to everyone.even teacher's mobile need to deposited.
5.unfilled answer sheeets should be marked as unfilled by exam supervisor and principal in a new seperate column meant for it after
the exam in exam cetre itself.this will act as deterient to corrupt means later done at bssc office.
6.video recording of exam .entre process i.e opening of seal to collecting of answersheet,closng of seal ,etc.
7.the result need to declare at eariest ,so that any setting s totally avoided by any gangs.
8.the question paper need to set by expects ,without any errors.
9.no leakage of queston paper at any cost,as in bihar leaking any exam paper has become a right for someone and business in crore.
friends,then only we can get a good post of a class 2 or 3 otherwise not in present times.
this should also be suggested to our mr cm or mr chairman or secretary of bssc at earliest
.help of court in this matter through pil or case will be welcome for us ,otherwise we shall be looser in meritless competition exam.

Anonymous said...

BSSC BREAKING NEWS
ACCORDING TO THE CHAIRMAN, JAB TAK LADKE DHARNA PRADARSHAN OFFFICE KE SAMNE NAHI KARENGE TAB TAK EXTRA RESULT PRAKASHIT NAHI HOGA. CHAIRMAN KA KEHNA HAI KI WO LATO KE BHUT HAIN, ISLIYE BATO SE NAHI MANANAE WALE. UNKA YEH BHI KEHNA HIA KI JAB TAK SABHI LADKE 5 BAR UNHE GALI NAHI DENGE TAB TAK MAINS PARIKSHA NAHI HOGI. SECRETARY KA KEHNA HAI KI WO BAHUT NIKKME HAI ISLIYE MUKHYA PARIKSHA UNKE BAS KI BAAT NAHI.

बीएसससी का मारा said...

भाई कोई तो कुछ करो। वरना बिहार कर्मचारी चयन आयोग कुछ करने से तो रही। फ़ोन तो लगता ही नहीं और लग भी जाता है तो सचिवालय नाम लेते ही रख देता है। सालो ने नींद हराम कर दी है। साले निक्क्म्मे है आयोग के अध्यक्ष और सचिव। स्टाफ भी साले गोबर गणेश है। कोई परबाह ही नहीं है। कहता है की विधि विभाग को भेजा गया है। बिधि विभाग लन्दन में तो है नहीं। वैसे भी एक महिना से ज्यादा हो गया है। इतने दिन में तो कोई परीक्षा लेकर रिजल्ट निकाला जा सकता है। पर हरामखोरो को हराम की खाने की आदत पर गयी है। पता नहीं कब मुख्य परीक्षा होगी?

Anonymous said...

सचिवालय सहायकों की नियुक्ति में गोलमाल का भांडा फूटने लगा है। 2004 में 146 सहायक नियुक्त हुए थे। इनमें 26 की नियुक्तियों में गड़बड़ी पाई गई है। सात बर्खास्त हुए। 19 पर कार्रवाई होनी है। पटना हाईकोर्ट ने भी इन आरोपियों को राहत देने से इंकार कर दिया। कोर्ट ने माना कि ये अवैध तरीके से नियुक्त हो गए थे।

इस समझ के साथ आज न्यायाधीश समरेन्द्र प्रताप सिंह की पीठ ने आधा दर्जन याचिकाओं को एकसाथ खारिज कर दिया। राज्य सरकार ने बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) के माध्यम से इन सहायकों की नियुक्ति की थी। जांच के दौरान 26 कर्मियों के प्रमाणपत्र में गड़बड़ी पाई गई। इनमें सात लोग इसी साल 10 मई को बर्खास्त किए गए हैं।

सुनवाई के दौरान बीपीएससी के अधिवक्ता संजय पांडेय ने कहा कि राज्य सरकार ने सभी नियुक्त सचिवालय सहायकों के प्रमाणपत्रों की जांच के लिए बीपीएससी को भेजा था। इनमें से 120 ही सही पाए गए हैं। कई अन्य अनियमितताएं भी सामने आई हैं।

mk said...

Kya likha hai bhai bhagat singh ki yad dila di........

Anonymous said...

समय पर नहीं हो सकेगी सचिवालय सहायक की मुख्य परीक्षा
पटनाः सचिवालय सहायक समेत विभिन्न संवर्गों के लिए होने वाली मुख्य परीक्षा की तिथि बढ़ेगी. कर्मचारी चयन आयोग ने 16 से 20 दिसंबर, 2012 के बीच मुख्य परीक्षा आयोजित करने को कहा था. लेकिन तय समय में यह नहीं हो सकेगा.
आयोग को इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग के मार्गदर्शन का इंतजार है. आयोग ने एक माह पूर्व विभाग को पत्र लिख कर प्रारंभिक परीक्षा (पीटी) के रिजल्ट पर मार्गदर्शन मांगा था. आयोग ने कहा था कि पीटी की कॉपियों के पुर्नमूल्यांकन के बाद 935 अभ्यर्थियों को असफल घोषित किया गया है, जो पूर्व में जारी रिजल्ट में सफल घोषित थे. कोर्ट के आदेश पर इन 935 अभ्यर्थी को भी मुख्य परीक्षा में शामिल करने का निर्णय लिया गया है. लेकिन, कुछ ऐसे भी अभ्यर्थी हैं, जो पुनर्मूल्यांकन में इन 935 अभ्यर्थियों से अधिक अंक प्राप्त किये हैं और असफल हैं. विभाग की सहमति मिलती है तो उन अभ्यर्थियों को भी मुख्य परीक्षा में शामिल किया जायेगा, जिन्हें इन 935 अभ्यर्थियों से अधिक अंक प्राप्त हैं. आयोग के सचिव परश्रुराम मिश्र ने कहा कि विभाग की सहमति मिलने के बाद मुख्य परीक्षा के कार्यक्रम नये सिरे से तय होंगे.
3285 पदों पर होनी है बहाली
3285 पदों के लिए 18 दिसंबर, 2011 को पीटी हुई थी, जिसमें 2.54 लाख अभ्यर्थी शामिल हुए थे. 12 अप्रैल, 2012 को पीटी का रिजल्ट प्रकाशित हुआ, जिसमें 16497 अभ्यर्थी सफल घोषित हुए. इसके बाद मूल्यांकन में गड़बड़ी किये जाने को लेकर यह मामला कोर्ट में गया. कापियों का पुनर्मूल्यांकन हुआ और 1415 नये अभ्यर्थी सफल घोषित हुए. 935 वैसे अभ्यर्थी असफल हो गये, जो 12 अप्रैल को जारी रिजल्ट में सफल थे.

Anonymous said...

बिहार कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष का प्रभार सूचना प्रावैधिकी विभाग के प्रधान सचिव अरुण कुमार सिंह को सौंपा गया है। गौरतलब है कि आईएएस अधिकारी बिहार कर्मचारी चयन आयोग के पूर्व अध्यक्ष जेआरके राव गुजरात विधानसभा चुनाव में चुनाव पर्यवेक्षक बनाए जाने के चलते राज्य से बाहर हैं। सामान्य प्रशासन विभाग के मुताबिक अधिसूचना निर्गत होने की तिथि से प्रोन्नति प्रभावी होगी।

Anonymous said...

Thank you very~very much
"Anonymous bhai*
December 5, 2012 8:22 PM
December 6, 2012 8:18 AM

its a great help by you to us

Anonymous said...

SO NOW, JSSC IS GOING TO CONDUCT MAINS EXAMINATION ON 16 DECEMBER. A BIG SLAP ON THE MOUTH OF BSSC.

DABANG PANDEY said...

they need kick between two legs,then only they will either work or not fit for work in future.slap is norma for those bastard born on soil of bihar.

Anonymous said...

Kisi ke pass sachiwalay sahayak mains ki koi new information hai to please share kare.

Anonymous said...

जेलों में स्थायी कक्षपाल की नियुक्ति के लिए भेजा गया प्रस्ताव ठंडे बस्ते में पड़ा है. सरकार ने दो साल पहले 60 सहायक जेलरों व चार हजार कक्षपालों की स्थायी नियुक्ति करने का निर्णय लिया था. इसके लिए राज्य कर्मचारी चयन आयोग को प्रस्ताव भेजा गया था. लेकिन, अब तक इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है. मुख्य सचिव अशोक कुमार सिन्हा ने इस पर नाराजगी जाहिर की है. वहीं, गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी ने भी आयोग को कड़ा पत्र लिख कर नियुक्ति की प्रक्रिया में तेजी लाने का अनुरोध किया है. श्री सुबहानी ने पिछले सप्ताह आयोग के अध्यक्ष को लिखे पत्र में कहा है कि जेल की सुरक्षा संवेदशील मामला है. कक्षपालों की कमी के कारण सुरक्षा व्यवस्था प्रभावित हो रहा है. आयोग के अधिकारियों ने गृह सचिव का पत्र मिलने की पुष्टि करते हुए बताया कि अध्यक्ष जेआरके राव गुजरात में चुनाव कराने गये हैं.

Anonymous said...

नियुक्त होंगे एक लाख सांख्यिकी स्वयंसेवक



शिक्षक नहीं करेंगे गणना व आंकड़ा संग्रहण के काम

निर्धारित पारिश्रमिक के आधार पर पंचायतों में होगी तैनाती आर्थि क गणना, फसल कटनी रिपोर्ट तैयार करने और फसल सव्रेक्षण जैसे कार्य कराये जायेंगे

पटना (एसएनबी)। राज्य में निर्धारित पारिश्रमिक के आधार पर करीब एक लाख सांख्यिकी स्वयंसेवकों की बहाली होगी। पंचायतवार तैनाती कर इनसे आर्थिक गणना, फसल कटनी रिपोर्ट और फसल सव्रेक्षण जैसे कार्य कराये जायेंगे। इसी के तहत करीब 11000 लोगों को बहाल किया गया है। योजना व विकास मंत्री नरेंद्र नारायण यादव ने बृहस्पतिवार को पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी। इस मौके पर विभाग के प्रधान सचिव विजय प्रकाश भी उपस्थित थे। मंत्री ने बताया कि पंचायत स्तरीय आंकड़ों की बढ़ती मांग को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। शिक्षा के अधिकार के कार्यान्वयन के फलस्वरूप शिक्षकों की सेवा अब गणना एवं अन्य आंकड़ों के संग्रहण में नहीं ली जा सकेगी। ऐसी स्थिति में समय-समय पर किये जाने वाले सांख्यिकी आंकड़ों के संग्रहण के लिए पंचायत स्तर पर कार्यबल की नितांत आवश्यकता महसूस की गयी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में पंचायत स्तर पर सांख्यिकी आंकड़ों के संग्रहण के लिए कार्यबल उपलब्ध नहीं है। पंचायत स्तरीय आंकड़ों की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। इस आलोक में मान्यता प्राप्त सांख्यिकी स्वयंसेवकों की परिकल्पना की गयी है, जिसे भारत सरकार ने भी सराहा है और देश के अन्य राज्यों को भी अपनाने का आग्रह किया है। उन्होंने बताया कि इसके लिए करीब तीन लाख आवेदन आये थे। पंचायतवार तीन आवेदकों का चयन कर उन्हें प्रशिक्षण दिया गया और बाद में परीक्षा ली गयी। इसके बाद करीब आठ हजार अभ्यर्थियों का चयन किया गया। उन्होंने बताया कि परीक्षा में करीब 19000 अभ्यर्थियों ने भाग लिया था। चयनित स्वयंसेवकों से प्रक्षेत्र मूल्य का संग्रह, पंचायत स्तर पर जन्म-मृत्यु की घटनाओं के निबंधन में सहयोग,आर्थिक गणना, सिचाई गणना आदि का कार्य कराया जायेगा। अब तक बहाल स्वयंसेवकों में अररिया में 409, अरवल में 69, औरंगाबाद में 305, बांका में 250, बेगूसराय में 405, भागलपुर में 165, भोजपुर में 263, बक्सर में 260, दरभंगा में 306, गया में 505, गोपालगंज में 408, जमुई में 245, जहानाबाद में 104, कैमूर में 135, कटिहार में 280, खगड़िया में 97, किशनगंज में 55, लखीसराय में 74, मधेपुरा में 208, मधुबनी में 537, मुंगेर में 164, मुजफ्फरपुर में 339, नालंदा में 249, नवादा में 262, पश्चिम चंपारण में 571, पटना में 438, पूर्वी चंपारण में 407, पूर्णिया में 170, रोहतास में 399, सासाराम में 310, समस्तीपुर में 744, सारण में 439, शेखपुरा में 44, शिवहर में 85, सीतामढ़ी में 301, सीवान में 324, सुपौल में 267, और वैशाली में 486 शामिल हैं।

Anonymous said...

Itna sannata kyo hai bhai?

Anonymous said...

According to BSSC staff those who are getting 327 in revaluation will be declared successful. To save 935, cutoff has been lowered 327 in general category. Result will be declared within one week. Result has been prepared, BSSC is waiting chairman's return from Gujarat Election. As soon as he returns, result will be declared. This news came from bssc staff who has visited secretariat yesterday. He told my friend who is an assistant in secretariat.

Anonymous said...

Chairman kya karne gujrat gaya hai.

Anonymous said...

He was there as a special election observer in Bhuj District. Go to election commission of India site, you will find JRK Rao name in poll observer.

Anonymous said...

after correction of few answers,why in affidavit bssc gave information that 1415 candidates are passing.they should have taken 915 already passed candidates while giving list to court.in order to save them,now many more undeserving will put in revised merit list.totally unjustified action by bssc,if taken by bssc.
why more people be allowed unnecessary n main exam. it wi be challenged in the court ,if that happens.
bye

Anonymous said...

now mr rao will be back in patna by flight soon. we expect the result cum main exam soon.their will be court case against him if he further delay our exam process,due to one reason or another.enough is enough.

Danish said...

Kisi ke pass bihar sachivalay mains ki koi new information hai to share kare lekin sahi information.

Anonymous said...

सचिवालय सहायक पीटी में और रिजल्ट जारी होंगे
पटना: सचिवालय सहायक समेत विभिन्न संवर्गों के 3285 पदों के लिए हुई प्रारंभिक परीक्षा में कुछ और अभ्यर्थी सफल किये जा सकेंगे. राज्य कर्मचारी चयन आयोग को इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग से मार्गदर्शन प्राप्त हो गया है.
आयोग जल्द ही अतिरिक्त रिजल्ट जारी करेगा. आयोग के सचिव परशुराम मिश्र ने कहा कि विभाग से जो मार्गदर्शन आया है इस पर आयोग की बैठक में विचार-विमर्श होगा. इसके बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी.
क्या था पेच
हाई कोर्ट के निर्देश पर पीटी की कॉपियों का पुनर्मूल्यांकन हुआ, जिसमें 1415 नये अभ्यर्थी सफल हुए. साथ ही पुनर्मूल्यांकन में 935 वैसे अभ्यर्थी असफल हो गये, जो पूर्व में जारी रिजल्ट में सफल थे. लेकिन, चुकि ये 935 अभ्यर्थी पूर्व में हुए मूल्यांकन में उत्तीर्ण थे, इसलिए इन्हें मुख्य परीक्षा में शामिल करने का निर्णय हाई कोर्ट के आदेश पर लिया गया. आयोग के समक्ष उलझन यह थी कि पुनर्मूल्यांकन में कुछ ऐसे अभ्यर्थी असफल घोषित हुए हैं, जिन्हें उक्त 935 अभ्यर्थियों से अधिक प्राप्त हुए हैं. ऐसे में इन 935 को मुख्य परीक्षा में शामिल करना व इनसे अधिक अंक लाने वालों को शामिल नहीं करना, फिर से एक विवाद को जन्म दे सकता है. इसलिए आयोग ने सामान्य प्रशासन विभाग से छह नवंबर, 2012 को मार्गदर्शन मांगा. फिर इस मामले पर विधि विभाग से राय ली गयी.

Anonymous said...

According to prabhat khabar e paper patna edition page number 1, bssc will soon publish additional result. It got guidance from samanya prashashan bibhag for extra result. According to that paper four question's answer were changed, on that basis evaluation were done.

Unemployed said...

Result kab tak declare hoga aur mains kab hoga ?

Anonymous said...

Result will be declared within a week. Most probably latest by Friday (28 December). Mains examination in February First Week. Four questions answer have been changed.

Anonymous said...

pahle result aa jaaye tab hi kuchh clear hoga-- till that just hope the best.

SANTOSH KUMAR said...

Anybody can tell me, what is cut off marks of genral and obc?

Anonymous said...

बिहार सचिवालय सहायक मुख्य परीक्षा 10 फ़रवरी को हो सकती है। अरितिक्त परिणाम एक सप्ताह में आ जाएगी। बिहार में 13 फ़रवरी से 1 मार्च तक इंटर की परीक्षा है और 13 मार्च से मैट्रिक की परीक्षा है। इसलिए 10 फ़रवरी को मुख्य परीक्षा आयोजित करने पर चर्चा चल रही है। पास लड़के तयारी आरम्भ कर दे।

RAHUL TIWARI said...

Thanks ratish ji & all bihar sachivalaya sahayak exam ke case aur reresult ke bare me jankari dete rahne ke liye. finally aaj bssc ka revised reslt de diya. 11000 additional reslt aur phle ka 16000 reslt mila ke total 27000 reslt hai. Mera aur mere bhai dono ka selection ho gaya. Ab agar Kisi v bhai ke pas naye cut of marks aur mains exam ke date ke bare me latest jankari ho to update kijiyega. Thanks again. And best of luck to all. Result check krne ka site-bsscnoticeboard.net

Kumar Sudhir said...

Mains ke case ka kya hua

Kumar Sudhir said...

Mains ke case ka kya hua

amrendra kumar said...

hi bloggers
tumsabhi failers jitna samay blog par din kaatne mein lagaate ho yadi thora mann preperation mein laga lete to kahin 4th grade ka exam jaroor pass karlete
Subhchintak bhai