CURRENT QUIZ:Which educational institution got top ranking in QS World University ranking (MIT-USA)***According to Second World Happiest Report, India is ranked at (111th)*** What was the reason behind America Shutdown (Healthcare Bill)*** What is India;s ranking in World Economic Forum's Global Competitiveness Report 2013 (60th)***On which book, Elianor Catton won Man Booker 2013 (The Luminaries)*** According to UN report, which chemical gas was used in Syria (Sarin)***Too whom last telegram was sent in India (Rahul Gandhi)***World ozone preservation day was celebrated on (16 September)***India’s last telegram was sent out on (15 July)***Who was awarded ‘pride of nation’ 2013 (John Abraham)*** The Indira Gandhi Prize for Peace, Disarmament and Development for the year 2012 was conferred to (Ellen Johnson Sirleaf, the president of Liberia)***First man made object that entered into interstellar Space is (Voyager-1)*** What is the name of India’s first military satellite launched on 29 August (GSAT-7 or Rukmini)**Who won Rajiv Gandhi Khel Ratna (Ranjit Sodhi-Shooting)**Who won silver medal in World wrestling championship held in Budapest (Amit Kumar-55Kg)***First Indian origin to win Miss America (Nina Davuluri)---------

Thursday, September 27, 2012

BPSC NEWS UPDATE





 (53-55  MAINS EXAMINATION)


According to the sources, (confirm sources) examiners were asked to complete the evaluation process by 30th September, 2012.  However, before the deadline expires, examiners requested for another 15 days to evaluate rest of the papers. Barring three to four optional papers, all optional papers, General Studies and Hindi compulsory answer sheets have been evaluated. 15 more days were provided to evaluate rest of the 3-4 papers. According to that source, BPSC will take one and half months for tabulating of marks. It means tabulating process will start after October 15. Dussehra and Diwali fall in those period. That is why tabulating will take more than one month. If we calculate one and half months after October 15, December emerges as a possible month of declaration of mains result. So you can start counting days for result from first week of December 2012. Before that, chances are blink for declaration of mains result.

ASSISTAN PROVIDENT FUND EXAM QUESTION AND ANSWER

BPSC 56-57 COMBINED EXAMINATION

9 comments:

Anonymous said...

Thanku ratishji.aapka calculation bilkul sahi hai result ke liye dec. tak wait karna hi padega.

Anonymous said...

We also think result will come in December,but what about the marking in papers? Can we believe on rumours?

Anonymous said...

Sir kya aap marking pattern pe kuch roshni dal sakte hai.hum ladko ke bich ise lekar badi curocity hai.

रणधीर said...

कुछ लोग अक्टूबर मे ही बता रहें हैं । ऐसा हो सकता है की जल्दी रिजल्ट देने का दवाब हो । ऐसी स्थिति मे टेबुलेटिंग को एक महीने से कम समय मे भी पूरा किया जा सकता है।
फिर भी इतना तो पक्का माना जा सकता है की जब कॉपी जांच का काम पूरा हो गया है तो रिजल्ट आने मे ज्यादा से ज्यादा दिसंबर तक का समय निश्चित है ।

मार्किंग के बारे मे तो बहुत सारी अफवाहें मिल रही हैं जिसमे LSW के बारे मे तो कुछ सच्चाई लगती है ।

vinita said...

Dhanyvad randhirji! Kuch history ka info ho to pl share kare.

रणधीर said...

विनीता जी ,

कृपया यहाँ देखें -
http://statecommission.blogspot.in/p/bpsc-forum.html

ये मित्रों द्वारा लगाए गए अनुमान और इधर उधर से जुटाए गए तथ्यों पर आधारित हैं । ऐसा भी नहीं कहा जा सकता की सारी अफवाहें गलत हैं और यह भी नहीं है की सारी सही ही हैं।
हिस्ट्री मे मुझे भी यही पता चला (कुछ दोस्तों से) की फर्स्ट पेपर मे अच्छी मार्किंग हुई है लेकिन दूसरे पेपर मे कुछ कम अंक दिये गए हैं। मुझे लगता है की जिसने भी पांचों सवालों के उतर अच्छे से लिखा है उन्हे दोनों पेपरों मे कम से कम 240-250 तो मिलना ही चाहिए और ऐसा होता भी रहा है।

vinita said...

Randhirji kuch naye updates aapke pas hai kya. History ko lekar mujhe kafi darrrr lag raha hai.

रणधीर said...

विनीता जी ,

डरने की कोई आवश्यकता नहीं है । लगता है की आपको बीपीएससी का कम अनुभव हैं । इसमे कई लड़के कई तरह की अफवाह फैलाते रहते हैं जिससे प्रतिभावान छात्रों का मनोबल कम होता है । पर अपने अनुभव से मै बता दूँ की इन सब बातों का कोई बहुत ज्यादा महत्व नहीं होता । जितने भी लोग विषय के बूम होने का हल्ला मचा रहे हैं उसमे बहुत कम ही सच्चाई दिख रही है । इसकी कई वजहें हैं । पिछली बार जो गलती बीपीएससी ने की है उसे वो किसी भी कीमत पर दुहराना नहीं चाहती । ऐसे मे मार्किंग सभी विषय वालों को उसके लिखने की क्वालिटी के हिसाब से ही मिलेंगे । यदि आपका हिस्ट्री विषय है तो चिंता बिलकुल न करें क्यूंकी इस बार किसी भी विषय मे अच्छे से लिखने वाले सदस्य को अच्छे नंबर ही मिलेंगे । ये मै आपको आश्वासन देने के लिए नहीं कह रहा हूँ बल्कि यही सच्चाई है । उधर हाईकोर्ट ने भी इस मामले मे अड़ियल रुख अपनाया हुआ है तो बीपीएससी चाहकर भी ज्यादा हाथ पैर नहीं मार सकती । कोई भी संवैधानिक संस्था अपनी और सरकार की बदमानी से डरती है और वही हाल बीपीएससी का है ।

शुभकामनाओ के साथ ।

vinita said...

Thanku randhirji.