CURRENT QUIZ: हाल में गृह मंत्रालय ने 'बिजली गिरना' आपदा को अधिसूचित आपदा की सूची में शामिल करने की सिफारिश 14वे वित्त आयोग से की है***बिहार के तेलहड़ा में प्राचीनतम विश्वविद्यालय के प्रमाण प्राप्त हुए ***मराठा मंदिर सिनेमा हॉल मे 'दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे' लगातार १०००० सप्ताह दिखाने का रिकॉर्ड बनाया ***21 जून को 'अंतराष्ट्रीय योग दिवस' मनाया जायेगा ***इबोला से लड़ने वाले डॉक्टर्स एवं नर्सों को टाइम पर्सन ऑफ़ दी ईयर २०१५ घोषित किया गया***भारत ने पहली बार अपना युद्धक पोत किसी देश को निर्यात करने का निर्णय किया. उस युद्धक पोत का क्या नाम है? (सीजीएस बैराकुडा)***भारत ने पहली बार अपना युद्धक पोत (सीजीएस बैराकुडा) किसी देश को निर्यात करने का निर्णय किया. उस देश का क्या नाम है? (मॉरीशस)***भारतीय दंड संहिता की वह धारा जिसके तहत आत्महत्या को गैर आपराधिक बनाया गया है? (धारा ३०९)***विश्व बैंक की एक शाखा "मिगा " का १८१ वां सदस्य कौन सा देश बना है(भूटान)***'उबर' जिस पर केंद्र सरकार ने दिल्ली में ऍप्स टैक्सी सेवा उपलब्ध कराने पर प्रतिबन्ध लगा दिया, किस देश की कंपनी है? (यूएसए)***अंतराष्ट्रीय भ्रस्टाचार निरोधी दिवस किस तिथि को मनाया जाता है? (9 दिसम्बर )***वह तिथि जिस दिन प्रथम विश्व मृदा दिवस मनाया गया:(5 दिसंबर)***हाल में अंतरास्ट्रीय अपराध अदालत ने उहरु केन्याता के खिलाफ युद्ध अपराध से सम्बंधित आरोप वापस ले लिए. उहरु केन्याता किस देश के राष्ट्रपति हैं? (केन्या)***वह देश जिसे दिसम्बर के प्रथम सप्ताह में पेयजल संकट के समाधान हेतु भारत ने बड़ी मात्र में पेयजल के आपूर्ति की?(मालदीव)***न्यू होराइजन्स किस आकाशीय पिंड के अध्ययन हेतु भेजा गया नासा का अभियान है? (प्लूटो )***हाल में कौन खिलाडी एकदिवसीय क्रिकेट में १०००० रन बनाने वाले विश्व के चौथे बल्लेबाज बने: (कुमार संगकारा)***वह केंद्रीय मंत्री और लोकसभा संसद जिनके बयानों के कारण संसद का दोनों सदन कई दिनों तक वाधित रहा: (साध्वी निरंजना ज्योति)*** भारत ने किस देश को पराजित कर दृष्टिहीनों का क्रिकेट विश्व कप २०१४ जीता: (पाकिस्तान )***इसरो ने किस तिथि को जीसैट 16 फ्रेंच गुयाना के कोउरू के अरियन-5 यान से प्रक्षेपित किया (7 दिसंबर )**थर्टी मीटर टेलिस्कोप परियोजना का पूर्ण सदस्य बना भारत***अरुण मजूमदार अमेरिका का विज्ञानं दूत बनें ***

Saturday, December 29, 2012

JPSC 6th CIVIL SERVICES MAINS EXAMINATION WITHOUT OPTIONAL!



CLICK HERE FOR JPSC 4TH FINAL RESULT SUBJECT-WISE 

CLICK HERE FOR JPSC CIVIL SERVICES PRELIMS NEW PATTERN
After changing State Civil Services Preliminary examination syllabus, Jharkhand Public Service Commission is in the process of changing the mains examination syllabus. According to the sources JPSC is in contact with those state public service commission's who have already changed state civil services mains examination syllabus. According to the JPSC, 6th State Combined Civil Services mains Examination will be based on new pattern in which all papers will be compulsory. It means no optional papers will be in the mains examination. JPSC has already announced the changes in preliminary examination. Fifth State Civil Services Preliminary examination will be conducted without any optional papers. Commission is saying that a lot of problems were emerged during evaluation process in 4th civil services mains examination. Some subjects marking made JPSC to think about the changes in the mains examination. A committee under B.S. Dubey will sit in January 2013 to ponder about the changes. So, be ready for optional less and all compulsory based 6th State Civil Services mains examination. 
CHHATTISGARH STATE CIVIL SERVICES MAINS WITHOUT OPTIONAL: Chhattisgarh Public Service Commission has published the advertisement for State Civil Services Examination. According to the mains syllabus, candidates need to appear in all 7 compulsory papers. It means no optional papers in mains examination.
CLICK HERE FOR CHHATTISGARH STATE CIVIL SERVICES EXAMINATION 2012 ADVERTISEMENT
Happy New Year.

11 comments:

Anonymous said...

Akhir me JPSC ko bhi apni galti ka ehsas hua. Regional language walo ne tehlka macha rakha tha.

Anonymous said...

त्नझारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) द्वारा चतुर्थ सिविल सेवा परीक्षा में 219 पदों के लिए अंतिम रूप से चयनित अभ्यर्थियों में लेबर एंड सोशल वेलफेयर (एलएसडब्ल्यू) विषय रखनेवाले अभ्यर्थियों की संख्या सबसे अधिक है. आयोग द्वारा जारी सूची के मुताबिक एलएसडब्ल्यू विषय से 1228 अभ्यर्थी साक्षात्कार में शामिल हुए, जिनमें 122 उम्मीदवार सफल हुए. इसी प्रकार मानवशास्त्र विषय में 335 में 44 अभ्यर्थी, पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में 470 में 51 अभ्यर्थी, समाजशास्त्र में 178 में 13 अभ्यर्थी,अर्थशास्त्र में 102 में 10 अभ्यर्थी, भूगोल में 366 में 42 अभ्यर्थी, इतिहास में 531 में 44 अभ्यर्थी, लॉ में 23 में दो, गणित में 13 में एक उम्मीदवार सफल हुए. इस परीक्षा में क्षेत्रीय भाषा रखने व सफल होनेवाले अभ्यर्थियों की संख्या भी अधिक रही. सबसे अधिक नागपुरी में 202 में 25 अभ्यर्थी, खोरठा में 174 में 17 अभ्यर्थी, कुड़ुख में 62 में पांच अभ्यर्थी, हिंदी में 98 में छह अभ्यर्थी, उर्दू में नौ में एक अभ्यर्थी, कुरमाली में 19 में एक अभ्यर्थी, हो में 34 में चार अभ्यर्थी व मुंडारी में 19 में एक तथा संताली में 60 में छह अभ्यर्थी सफल हुए.

26-30 वर्ष के बीच के अभ्यर्थियों की संख्या अधिक : इस परीक्षा में 20-26 वर्ष के बीच 42 अभ्यर्थी, 26-30 वर्ष के बीच 74 अभ्यर्थी, 30-35 वर्ष के बीच 63 अभ्यर्थी और 35 व इससे अधिक के 40 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है.

सरकारी सेवक में बीसी वन आगे : इस परीक्षा में सरकारी सेवा में कार्यरत अभ्यर्थियों में बीसी वन के 12 अभ्यर्थी चुने गये हैं, जबकि सामान्य के दो, एसटी के सात, एससी के चार व बीसी टू के सात अभ्यर्थियों का चयन हुआ है.

पुरुषों की संख्या अधिक : परीक्षा में सामान्य जाति के 44 पुरुष व 12 महिलाओं का चयन हुआ है. एसटी में 51 पुरुषों व 23 महिलाएं, एससी में 17 पुरुषों का चयन हुआ है. जबकि बीसी वन में 35 पुरुष व पांच महिलाओं तथा बीसी टू में 26 पुरुषों व छह महिलाओं का चयन हुआ है.

Anonymous said...

Apke news authentic hote hai jha ji. 5th jpsc ke intejar me sabhi bekrar hai. Kuchh update kare jald se jald.

Anonymous said...

It's enormous that you are getting thoughts from this piece of writing as well as from our argument made here.
Also visit my web blog : chat.com free

AJAY SINGH said...

शिव बसंत और कार्मिक की कारगुजारियॉ!

दोस्तो 5th JPSC के प्रकाशित होने की सूचना इस माह के अंत तक जोरों पर है। लोग age के cut-off Date को लेकर संशय में है।
ऐसी जानकारी मिल रही है कि age का cut-off Date 01.08.2012 रखा जा रहा है। और तो और last Nov. में कार्मिक विभाग से एक पत्र जारी हुआ जिसमें कहा गया है कि अब JPSC में किसी को भी 4 Attempt से ज्यादा नही दिया जाएगा।
सवाल यह है कि आज जब लगभग सभी राज्यों ने अपने यहॉ pcs exam को attempt free कर दिया है तो आप कौन सी नर्इ व्यवस्था को लागु कर रहे है ?
JPSC के गठन के समय आप ने यह नियम बनाया था कि कोर्इ भी 5 attempt दे सकता है और बाद में आपने इसे संशोधित कर attempt free कर दिया। आपको क्या हक है छात्रों के भविष्य से खेलने का। आज आप attempt को 4 कर दे रहे है, अगर आप पहलें attempt को संशोधित नही करते तो आज हम अपना attempt बचा कर रखते। खेल के नियम एकबार बनते है खेल चालु हो जाने के बाद इसमे नकारात्मक संशोधन नही किया जाता।
इसी तरह आपने 3rd jpsc मे cut-off Date 01.08.2005 रखा, 4th jpsc आपने cut-off Date 01.08.2006 रखा और अब cut-off Date 01.08.2007 रखने के बजाय 01.08.2012 रखने की तैयारी कर रहे हैं जो उचित नही हैं।
दोस्तों यहॉ बैठे-बैठे कुछ नही मिलता अपना हक लड कर लेना पडता है। अत: आप एक लम्बी लडार्इ के लिए तैयार रहे।

Anonymous said...

ITS GOOD TO HEAR THT JPSC 5TH NOTIFICATION WILL SOON IN NEWS

AJAY SINGH said...

सिविल सेवा परीक्षा में अवसर की बाध्यता का करेंगे विरोध

रांची‚ सिविल सेवा की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की बैठक मंगलवार को बिहार क्लब में हुई। बैठक के बाद मनोज कुमार ने बताया कि किसी भी प्रतियोगिता परीक्षा में पांच से घटाकर चार अवसर किए जा रहे हैं। यह पूरी तरह गलत है। उन्होंने बताया कि बिहार और उत्तर प्रदेश में अवसर संबंधी बाध्यता खत्म की जा रही है। ऐसे में झारखंड में इसे लागू किए जाने का अभ्यर्थी विरोध करेंगे। उन्होंने बताया कि 12 वर्ष में सिर्फ चार सिविल सेवा परीक्षा हुई है। इसमें दो की जांच सीबीआई कर रही है।
Danik bhaskar, ranchi 30/01/2013 page no. 5


Anonymous said...

naye barch walon ko ati me niyukti patra diya gaya,
par next notification jpsc kyun nahi de rahi hai

shashi bhushan said...

Patna civil court clerk k liye call 9279449493

sanjay kumar said...

Can u give me ur contact detail....????

RAJEEV kumar said...

bhai kya koi mujhe bata sakte hain ki mujhe jpsc aur bpsc ka mains syllabus(history, LSW, hindi)aur in subjects ka previous years question paper kaha se milega. yadi kinhi logo ke pass hai to plz send karen.


my email id is rajds1234@gmail.com